Top 100+ Love Shayari In Hindi for Grilfriend And Boyfriend

LSI KEYWORD

love shayari in hindi for boyfriend

sad love shayari in hindi for girlfriend

beautiful hindi love shayari

hindi shayari love sad

dil love shayari

love shayari in english

super love shayari in hindi

new love shayari in hindi 2018

Alternate text

Romantic ShayariLove Shayari

जब से तूने मुझे दीवाना बना रखा है; संग हर शख्स ने हाथों में उठा रखा है; उसके दिल पर भी कड़ी इश्क में गुजरी होगी; नाम जिसने भी मोहब्बत का सज़ा रखा है!

चाहते है जो हद से ज़्यादा किसी को, वो ही तो सब से ज़्यादा तकरार करते है, करो ना फिकर अगर वो नाराज़ हो जाए, नाराज़ होते है वोही जो सब से ज़्यादा प्यार करते है

आपको दिल मे और दुनिया को भुलाए रखती हू, कोई तुम्हे मेरी आँखो मे देख ना ले, इस वजह से निगाहो को झुकाए रखती हू

तरसती नज़रों की प्यास हो तुम, तड़पते दिल की आस हो तुम, बुझती ज़िंदगी की सास हो तुम, फिर कैसे ना कहु?.. कुछ खास हो तुम. 

कुबूल हमने कर लिया आज प्यार का पैगाम, होगा सो देखा जायेगा आज इश्क़ का अंजाम. 

वो मुस्कुराकर मिले तो इश्क़ समज बैठे हम, उनकी उलफत को इज़हार समज बैठे हम, हमारा नसीब बहोत आच्छा तो नही था, खुद को उनके मोहब्बत का हक़दार समज बैठे. 

प्यार की अनदेखी सूरत हो तुम, जिंदगी की सबसे बड़ी ज़रूरत हो तुम, खुबसूरत तो गुलाब के फूल भी होते है, फुलो से भी खुबसूरत हो तुम. 

आपके प्यार को सलाम किया हे, जीने का हर अंदाज़ आपके नाम किया हे, मांग लीजिये आज खुदा से कुछ भी, हमने अपनी हर मन्नत को आपके नाम किया हे.

दुनिया की भिड मे एक दुआ है हमारी, जीस मे मांगी हर खुशी तुम्हारी, जब भी आप मुस्कुरए अपने दिल से, समझो दुआ कबुल है हमारी. 

किसी और की ख्वाबो मे रहकर वो हमसे वफ़ा की बाते करते हे, ये कैसी मोहब्बत हे मेरे दोस्तो, वो बेवफा हे ये जानकर भी, हम उन्ही से वफ़ा ए मोहब्बत करते हे. 

क्यूँ ना गुरूर करता में अपने आप पे   मुझे उस ने चाहा जिस के चाहने वाले हज़ारों थे  ! 

जीवन एक ल़हेर थी और आप साहिल थे, क्या मालूम कैसे आप हमारे काबिल थे, नही भूलेंगे उन हसीन लम्हो को, जिस दिन आप हमारी ज़िंदगी मे शामिल थे. 

जीवन एक ल़हेर थी और आप साहिल थे, क्या मालूम कैसे आप हमारे काबिल थे, नही भूलेंगे उन हसीन लम्हो को, जिस दिन आप हमारी ज़िंदगी मे शामिल थे. 

कलम थी हाथ मै लिखना सिखाया अपने, ताक़त थी हाथ मै होसला दिलाया अपने, मंज़िल थी सामने रास्ता दिखाया अपने, हम तो सिर्फ़ दोस्त थे, आशिक़ बनाया आप ने . 

अजनबी बनके मिले थे ये दुनिया के सफ़र मे, ये यादो के प्यारे लम्हे कभी भूलेगे नही, अगर याद रखना आपकी फ़ितरत हे जानेमन, तो वादा हे आपसे के हम भी आपको भूलेगे नही.

आपकी आरज़ू मे हमने बहारो को देखा, तेरे ख्वाबो मे हमने सितारो को देखा, हमे आपका साथ एक पसंद आया, वरना इन निगाहो ने तो हज़ारो को देखा.

आपकी निगाहो से काश कोई इशारा होता, ज़िंदगी मे मेरी जान जीने का सहारा होता. फ़ना कर देते हम हर बंधन ज़माने के, आपने एक बार दिल से पुकारा होता. 

उन्हे ये परेशानी हे के वो हर किसी को देखकर मुस्कुराते हे, वो नादान ये नही समजते के हमे हर चहेरे मे वो नज़र आते हे.       

हम आपके दिल मे एक याद बनकर रहेंगे, तेरे चहेरे पे एक मुस्कान बनकर रहेंगे, हमे आपके करीब हे समजना ज़िंदगी मे, हम आपके साथ आसमान बनकर रहेंगे. 

ज़िंदगी मे मोहब्बत उनसे ना मिले, जिनसे आप सच्चा   प्यार करते हो तो, मोहब्बत आप उनको ज़रूर देना, जो आप से सच्चा करते हे. 

तमन्ना हो मिलने की तो, बाँध आँखों मे भी नज़र आएँगे, महसूस करने की कोशिश तो कीजिए, दूर होते हुए भी पास नज़र आएँगे. 

शमा कहती है मूज़े बनाया किसने, जिस जिस के हाथ लगी मूज़े जलाया उसने, वो शमा क्या जिसे कोई जलाने वाला ना हो, वो इंसान ही क्या जिसे कोई चाहने वाला ना हो   

हसना हमारा किसी को गवारा नही होता, हर मुसाफिर ज़िंदगी का सहारा नही होता, मिलते है हर लोग तन्हा ज़िंदगी में, पर हर कोई आप सा प्यारा नही होता

एक आस, एक एहसास, मेरी सोच और बस तुम, एक सवाल, एक मजाल, तुम्हारा ख़याल ओर बस तुम .

नज़रे मिले तो प्यार हो जाता है, पलके उठे तो इज़हार हो जाता है, ना जाने क्या कशिश है चाहत मैं, के कोई अंजान भी हमारी ज़िंदगी का हक़दार हो

पलको से रास्ते के काँटे हटा देंगे फूल तो क्या हम अपना दिल बिछा देंगे टूटने ना देंगे हम इस प्यार को कभी बदले मे हम खुद को मिटा देंगे !!!

मैं आदत हूँ उसकी , वो ज़रूरत है मेरी… मैं फरमाइश हूँ उसकी, वो इबादत है मेरी.. इतनी आसानी से कैसे , निकल दू उसे अपने दिल से.. मैं ख्वाब

ज़िंदगी में गम मिले तो मिले, प्यार उनका कभी कम ना मिले, चाहते है हम उनको जितना, कई गुना प्यार हमें उनका मिले .

तू साथ मेरे है,तू पास मेरे है, जानता हू मैं ये दिन सुनहरे हैं.

इस दिल की खातिर तू पास है मेरे, जाने क्या क्या इस दिल में,अरमान तेरे हैं.

चाहत में डूबने का हक़ सभी को है पर दुनिया के सामने इनकार सभी को है बेशक कोई छुपा ले दिल की गहराइयों में पर किसी ना किसी से तो

वो खुशबुओ के रैलिया , दिलकश हसीन मेले दिल की जवान तरंगें, वो उमंगें जैसे बरस रही हो, रस रंग की फुवारें अब तक बसी हैं दिल में, प्यार लाने

इशारों का इशारों से जवाब आ गया प्यारी की नज़र का जवाब प्यार से आ गया

साथ देना चाहते है आप की हर राह मे जिंदगी जीना चाहते है आप की बाहों मे बन जाना साँसे हमारी ओर कर देना एहसान इतना जो हो हमारा प्यार

सांसो को प्यारी आप की चाहत, धड़कनो को प्यारी आपकी मोहब्बत, जिंदगी को प्यारी आप की मुस्कुराहट इसके लिए करते रहे उमरभर खुदकी इबादत.

सांसो को प्यारी आप की चाहत, धड़कनो को प्यारी आपकी मोहब्बत, जिंदगी को प्यारी आप की मुस्कुराहट इसके लिए करते रहे उमरभर खुदकी इबादत. 

हम-नवा कर ले गे एक दिन सब रक़ीबों को प्यार से दिल जीतने में यह महारत आप की 

ज़मीन   से   आसमान   तक ,   इश्क़   का   ही   बोल बाला   है, इश्क़   के   करने   का   लेकिन,   सभी   का   ढंग निराला है. इश्क़   करती   चकोरी,   चाँद   उसके   दिल   में बसता है. इश्क़     की   बूँद   की   खातिर , पपीहा   भी तरसता   है. 

रह रह के जो गूँजे दिल मे धड़कन के साथ वो धीमी धीमी प्रेम रागिनी तू है 

आदत होगी दिल की इश्क़ और अदा होगी हुस्न-ए दिल की वही, शरत के पलो मे सजी मेफ़िल का नायाब मैखाना होगा,       

पहली   झलक में मैने पसंद तुमको किया, बिन बोले तुमसे आँखों ने सब कुछ कह दिया, दूसरी हे मुलाक़ात में तुमने मेरे दिल को छूह लिया, फिर बिन बोले दिल की डोर को मैने तुम्हारे हवाले कर दिया, 

पहली   झलक में मैने पसंद तुमको किया, बिन बोले तुमसे आँखों ने सब कुछ कह दिया, दूसरी हे मुलाक़ात में तुमने मेरे दिल को छूह लिया, फिर बिन बोले दिल की डोर को मैने तुम्हारे हवाले कर दिया, 

पहली   झलक में मैने पसंद तुमको किया, बिन बोले तुमसे आँखों ने सब कुछ कह दिया, दूसरी हे मुलाक़ात में तुमने मेरे दिल को छूह लिया, फिर बिन बोले दिल की डोर को मैने तुम्हारे हवाले कर दिया, 

तू अगर दिल पे मेरे, हाथ ही रख दे तो, टूट-ती साँस भी, कुछ दर्र संभाल जाती है, 

बेकरार दिल को करार नही आता है मिलने का हँहे क्यूँ उनको ख़याल नही आता है 

तुम अपनी शाम की तन्हैया मुझे दे दो बिखरती ज़ुल्फ की परछाईयाँ मुझे दे दो मे डूब जाऊ तुम्हारे आँखो मे तुम अपने दर्द की गहराइया मुझे दे दो मे तुम्हे याद करू ओर तुम को ख़बर हो जाए मोहब्बत की वो सचाइया मुझे दे दो 

इश्क़ का बीमार तो बड़ा खुशनसीब है यारो, की आशिक़ तो ये लाइलाज हे अच्छा है 

तेरे बिना टूटकर बिखर जाएँगे, तुम मिल गये तो गुलशन की तरह खिल जाएँगे, तुम ना मिले तो जीते जी मार जाएँगे, तुम्हे पा लिया तो मारकर भी जी जाएँगे 

Leave a Comment